Main Menu

सीएसआइओ की स्थापना योजना आयोग द्वारा स्थापित एक समिति की सिफारिशों पर   30 अक्तूबर, 1959 में की गई। प्रारंभ में इसका कार्यालय नई दिल्ली में सीएसआइआर भवन में था, जो वर्ष 1962 में चण्डीगढ़ में स्थानांतरित हुआ। कर्मशालाओं सहित चार मंजिला भवन का उद्घाटन दिसंबर, 1967 में भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ. जाकिर हुसैन के कर-कमलों से हुआ। अनुसंधान एवं विकास प्रभागों, पुस्तकालय इत्यादि के लिए चार मंजिला एक अन्य खंड वर्ष 1976 में तैयार किया गया।

 

संस्थान को प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में चुनौतीपूर्ण एवं नवीन क्षेत्रों की विकास परियोजनाओं पर कार्य करने के अनुकूल बनाने के लिए 80 के दशक के दौरान प्रयोगषाला भवनों एवं मूल ढांचा सुविधाओं का आधुनिकीकरण किया गया। सीएसआइओ के पृथक्‌ प्रशासनिक खंड का उद्घाटन सितंबर, 1994 में सीएसआइआर के तत्कालीन महानिदेशक प्रो. एस. के. जोशी ने किया।

 

समुचित रूप से प्रशिक्षित उपकरण प्रौद्योगिकीविदों की निरंतर बढ़ रही मांग को पूरा करने के लिए सीएसआइओ में स्विस फाउंडेशन फॉर टैक्नीकल असिस्टेंस, स्विट्जरलैंड के सहयोग से इण्डो-स्विस प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना की गई। इसका उद्घाटन भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू ने दिसंबर, 1963 में किया।
 

खोज